E-Learning क्या है ?

हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का हमरे और एक शानदार हिंदी ब्लॉग में आज हम बात करने वाले है E Learning kya hai इसके बारेमें और कैसे ये हमारे education system को मदद कर रहा है ।

पढाई करना एक इंसान का बोहोत ही कीमती वक्त होता है उसी समय में जो वो सीखता है उसी हिसाब से वो अपना आगे का जिंदगी को बनाता है । पढाई करने का सिलसिला हमारे बचपन से सुरु होता है और आगे जबतक हम कोई अच्छा सा नौकरी या फिर कही हम अच्छा खाशा पैसा ना कमल तबतक पढाई करते है ।

हर जगह में पढाई करने का एक ही तरीका होता था जो की हर कोई अपनाते थे कही स्कूल में जाके किसी टीचर से वो पढ़ के सीखते थे और उन्हें सिखने केलिए कहीं ना कहीं उन्हें स्कूल तक जाना ही पड़ता था । पर समय के हिसाब से दुनिया तो बदल रही है साथ ही साथ हर चीज की तरीके बी बदल रही है । आज के समय में हमारे रोज मारगी जिंदगी में technology अपना जगह ले चूका है । हम हर कामों में technology का इस्तमाल करते है ।

ठीक उसी तरह technology हमारे पढाई में बी घुस गया है आज कल हम पढाई में ज्यादा से ज्यादा technology का इस्तमाल कर रहे है । तो चलिए आज जानते है पढाई यानि शिक्ष्य के क्षेत्र में technology कैसे मदद कर रहा है हमे यानि हम आज बात करने वाले है e-learning क्या है ? इसके बारेमें ।

इ-शिक्ष्य  क्या है ? E-Learning in Hindi

e learning kya hai

E-Learning का मतलब हॉट है Electronic Learning यानि जिस learning में इलेक्ट्रॉनिक यन्त्र का इस्तमाल होता है उसे हम e-learning कहते है यानि इ-शिक्ष्य । अगर आसान शब्दों में आपको बताऊ तो जहाँ बी पढाई में इलेक्ट्रॉनिक यन्त्र जैसे की tv , computer , monitor जैसे चीजों का इस्तमाल होता है उन सब को e-learning कहा जाता है इसमें internet में जो पढ़ाया जा रहा है आज के समय में वो सब बी शामिल है ।

अगर बात करू इसके इतिहास की तो बोहोत पहले से ये e-learning की प्रकिया सुरु हो चुकी है । पहले के समय में classroom होते थे और वहां whiteboard के जिरए से बच्चो को पढ़ाया जाता था जो को सरे बच्चो को पसंद नहीं था और वो पढाई में ध्यान नहीं देते थे ।

हकीकत में उसी तरीके की पढाई में बच्चे ध्यान केंद्रित नहीं कर पा रहे थे और पढाई में हर कोई मैं नहीं लगा रहे थे फिर धीरे धीरे पढाई में technology का इस्तमाल किया गया और images और video की फॉर्म में पढ़ाया गया जिसके जरिये बच्चो का  ध्यान ना भटके एक जगह में केंद्रित हुआ और उन्हें पढाई में मजा बी आता था इसमें ।

आगे तो आपके पता है आज के समय में लोगों ने covid-19 आने के बाद बोहोत सारे जगह में school और collages में online पढ़ना सुरु कर दिया है जो आज के समय में सबसे बढ़िया इस्तमाल है इंटरनेट का और टेक्नोलॉजी का ।

ऐसे बी कुछ जगह है जहाँ इ लीनिंग को बोहोत ही ज्यादा ध्यान जाता है और उन्ही सब जगह में जो सब classroom बने है वो सब बोहोत ही advanced तरीके से बने है और उनमे technology का पूरा इस्तमाल किया गया है उसमे आपको tv से लेके कंप्यूटर और projector देखने केलिए मिल जाता है और वहां बच्चो को images और videos के जरिये पढ़ाया जाता है, जो की बोहत असरदार तरीके से बच्चो को मदद करता है चीजों को याद रखने में और पढाई को रोचक बनता है ।

बदलती हुई दुनिया में e-learning एक बोहत ही एहम भूमिका निभा रही है और आगे चलके हमारा पढाई का भबिस्य कहीं ना कही e-learning में ही है । आज कल बोहतो सारे स्कूल और कलागेस ऑनलाइन का सुबिधा देते है अगर आप चाहो तो घर बैठे है उन्ही सारे कोर्स या फिर कोई निर्धिस्ट चीज की पढाई कर सकते हो और आप ऑनलाइन में ही परीक्ष्य दे सकते हो और ऑनलाइन में ही आपको आपका सर्टिफिकेट मिल जायेगा ।

🔸 Self-stydy कैसे करे ? Best Tips Ever ( More Than 1000+ Readers Read )

🔸 WhatsApp से पैसे कैसे कमाए ?

इ लर्निंग के फायदे और नुकसान

हर चीज की अच्छी बात होती है और कुछ बुरी बात होती है उसी तरह इ लर्निंग के बी कुछ अच्छी और कुछ बुरी बात होती है चलिए इनसब के बारेमें जानते है

इ लर्निंग के फायदे

  • सबसे पहले तो इ लर्निंग में आपको पढ़ने में मजा और आसानी होती है चीजों को समझने में traditonal पढाई के तुलना में ।
  • इसमें आप अपने हिसाब से समय निकल के पढाई कर सकते हो ।
  • इसमें काम समय में ज्यादा पढाई कर सकते हो अगर आपको पढाई में दिलचस्बी है तो ।
  • इ लर्निंग में काम खर्चा आता है क्यूंकि इसमें आपका uniform से लेके आपका किताब और आना जाना अदि का खर्च बच जाता है ।
  • इ लर्निंग में अगर आप कोई चीज को समझ नहीं पाते है तो आप उसे बार बार देख सकते हो जबतक वो चीज आप समझ ना पाओ और क्कुह डाउट या सवाल करना है तो ऑनलाइन में ही आप सवाल पूछ सकते हो ।
  • इ लर्निंग स्वतंत्र सिक्ष्या को बढ़ावा देता है यानि self-education को ।

इ लर्निगं के नुकसान

  • सबसे पहले तो ये आता है की इ लर्निंग कर रहा है कोई बच्चा तो उसके parent बच्चे को गाइड करना है जैसे वो पहले के समय में कर रहे थे वरना बोहोत सारे बच्चे को पढाई में मैं नहीं लगता है जिसके कारन वो पढाई से दूर बी भाग सकते है ।
  • इसमें बच्चे का अगर मैं नहीं लगता है या फिर वो पढाई करना नहीं चाहता है तो उसी क्षेत्र में ये बोहतो दिक्कत दे सकता है बच्चे को ।
  • ऑनलाइन में अगर आप कोई practical चीजें पढाई कर रहे है तो आपको समझने में बोहोत दिक्कत का सामना करना पड़ता है ।
  • हर कोई चाहे तो e-learning कर बी नहीं सकता है क्यों की इसमें बी थोड़ा बोहोत खर्चा के साथ साथ technology का ज्ञान बी होना जरुरी होता है जैसे की Wi-Fi ,internet, mobile या फिर computer का इस्तमाल आना चाहिए ।



आज अपने क्या सीखा

असा करते है आज हमने कुछ सीखा पाया और कुछ नयी जानकारी आपको दे पाया हमारे जो बिसय था e learning Kya hai इसके बारेमें । यहाँ हमने बताये है की कैसे e-learning हमारे पढाई में मदद करता है और आज के टेक्नोलॉजी की दुनिया में ये कैसे बिद्यार्थी को पढाई में मदद कर रहा है । और साथ ही साथ हमने बताये है की इ लर्निंग के कुछ फायदे और नुकसान के बारेमें ।

🔸 Digital Signature क्या है ? 

🔸 घडी का अविष्कार किसने kiya था ?

अगर आपको हमारा ये पोस्ट अच्छा लगा है तो आप अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कीजिये और comment करके जरूर बताये की आपको हमारा ये जानकारी कैसे लगा अगर आपको कुछ बी और जानकारी चाहते है इसके समाहित तो आप निचे कमेंट में पूछ सकते है ।

अगर आपको हमारा ये पोस्ट अच्छा लगा है तो आप अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कीजिये और comment करके जरूर बताये की आपको हमारा ये जानकारी कैसे लगा अगर आपको कुछ बी और जानकारी चाहते है इसके समाहित तो आप निचे कमेंट में पूछ सकते है ।

Share on:
by Subrat Kumar
I am a professional Blogger and a Digital Marketer since a month ago, I believe in first Learning then remove "L" from Learning. That's all about me.

Leave a Comment