बल्ब का अविष्कार किसने किया ?

बल्ब का अविष्कार किसने किया ?

बल्ब का अविष्कार किसने किया ?

आज के समय में electric bulb के बारेमें किसे नहीं पता है और कौन इसे इस्तमाल नहीं कर रहा है, आज के समय में लगभग सबके घर में आपको एलेट्रिक बल्ब देखने केलिए मिलते है । पर अपने कभी सोचा है आखिर इलेक्ट्रिक बल्ब का अविष्कार किसने किया था और कैसे इलेक्ट्रिक बल्ब का बिकसित हुआ है ।

अगर आपने अपने रोज मारगी जिंदगी में इलेक्ट्रिक बल्ब का इस्तमाल करते है और आपको पता नहीं है कैसे इसके बारेमें और आप जानना चाहते है इसके बारेमें तो आप सही जगह अये है, हम आज इसी चीज के ऊपर बात करने वाले है ।

सबसे पहले तो आपको पता होगा रॉजनि अँधेरे में कितना जरुरी है और रोशनी का अविष्कार लोगों ने हजारों साल पहले कर दिए थे, सबसे पहले लोग तो लोगों ने लकड़ी का इस्तमाल करते थे फिर उन्होंने ने कैंडल का इस्तमाल किये फि वो गैस से बानी हुई लैंप का इस्तमाल किये फिर जाके इलेक्ट्रिक बल्ब की बारी आयी ।

आगे बात करने से पहले चलिए जानते है कुछ fact यानि कुछ रोचक तथ्य इलेक्ट्रिक बल्ब के बारेमिन ताकि आपको अंदर जिज्ञासा अये इसके बारेमें जानने केलिए

🧐 क्या आपको पता है घर में जो इलेक्टिक बल्ब जो होता है उसकी average जलने की समय है 1,000 घंटा

🧐 हैलोजेन लाइट बल्ब की average जलने की समय है 2,000 घंटा ।

🧐 आज के समय में जो LED लाइट इस्तमाल हो रही है उनसब की average जलने की समय है 20,000 से 30,000 घंटा जो की एक साधारण बल्ब से 20 गुना ज्यादा होती है ।

एलेक्र्टिक बल्ब क्या है ?

bulb ka avishkar kisne kiya

ये एक इलेक्ट्रॉनिक यन्त्र है जो की हमें रोशनी प्रदान करती है । इलेक्ट्रिक बल्ब एक प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक लैंप की जैसा है जिसके अंदर से इलेक्ट्रिक करंट पास होने पे वो रोशनी देती है । इसको अगर और सरल भाषा में आपको बताऊ तो इलेक्ट्रॉनिक बल्ब एक काच की गोला है जिसे अंदर आर्गन नाम का एक गैस का इस्तमाल होता है और जैसे है उसी कच की गोला के अंदर से बुड्यूट प्रबाह किया जाता है आर्गन गैस गरम होक रोशनी देती है ।

इलेक्टॉनिक बल्ब का अविष्कार किसने किया था ?

हमारे रोज मारगी जिंदगी में सबसे ज्यादा प्रभाब देने वाली बिजली बल्ब जो देख रहे है उसका अविष्कार थोसम अल्वा ऑडिशन ने किया था सं 1879 में । आपको यहाँ एबी जान लेना चाहिए की थॉमस ही एकेले आदमी नहीं थे जिन्होंने बिजली बनाने की कोसिस की थी उनके अलावा बी बोहोत सारे बैज्ञानिक कोसिस किये थे इलेक्टॉनिक बल्ब बनाने की ।

बिजली बल्ब की इतिहास

अगर हम बिजली बल्ब की इतिहास के बारेमें बात करे तो बोहोत सारे बैज्ञानिकों ने कोसिस की थी बिजली बल्ब बनाने की पर उनमे से खास करके थॉमस अल्वा ऑडिशन को मन जाता इलेक्ट्रॉनिक यानि बिजली बल्ब के अविष्कारक ।

सं 1802 में बैज्ञानिक Humphry Divvy नमक एक बैज्ञानकी ने पहली बात बिद्युत चलने वाली इलेक्टिक लाइट बनाये थे, वो बिद्युत के साथ experiment करते वक्त वो पहली बार बिद्युत बैटरी बनाये थे । वो उसी बैटरी में से तार का संजोग करके वो जैसे ही कार्बन के एक टुकड़े को लगाए कार्बोन चमकने लगा और रोशनी देने लगा और उनके इसी अविष्कार का नाम था Electric Arc Lamp .

आगे आने सैलून में और बी बोहोत सारे बैज्ञानिकों ने इलेक्टिक बल्ब का अविष्कार तो किया था पर उनके कोई कमर्शियल इस्तमाल नहीं हो पाया था । फिर 1878 में थॉमस अल्वा ऑडिशन ने इसी अविष्कार को आगे बढ़ने के केलिए लगे और इसके ऊपर काम करना सुरु  किये और अक्टूबर 14 सं 1878 में उन्होंने एक सफल इलेक्टिक बल्ब का अविष्कार किया था ।

फिर वो आगे और ज्यादा काम करने लगे इसी अविष्कार के ऊपर ताकि काम खर्चा और कम बिजली में एक इलेक्टिक बल्ब बना पाए और  फिर उन्होंने पहेली बार ऐसा इलेक्टिक बल्ब बनाये थे जो की 1200 घंटा केलिए रोशनी दे पाए ऐसा इलेक्ट्रॉनिक बल्ब बनाये था ।

फिर पहेली बात इसी बल्ब को लेते हुए कमर्सिअली बनाना सुरु किये गया पहली बात इलेक्ट्रॉनिक बल्ब का 1880 में और उनके कम्पनी का नाम था थॉमस एडिशन सौंपने और वो उसे मार्केटिंग बी करना सुरु किये थे ।

अगर आपको और सही से इनसब जानकारी को जानना है तो आप निचे वीडियो देख सकते है जहाँ हिंदी में बोहोत अच्छी तरीके से बताया गया है

बिजली बल्ब के प्रकार

आप अगर देखोगे गए तो खास करके आपको इन्ही 3 प्रकार के आपको इलेक्टॉनिक बल्ब देखने केलिए मिलते है जैसे की निचे आप उनके नाम देख सकते है

  1. Incandescent Bulb: ये खास करके पुराने ज़माने के बल्ब होते है और हम कहीं ना कहीं इनसब को इस्तमाल किये होंगे । ये खास करके पीला रंग का रोशनी देते है, इसी प्रकार के बल्ब गर्मी ज्यादा देती है और बिजली ज्यादा लेती है जलने में ।
  2. Halogen Bulbs: अपने तो इसके नाम जरूर सुने होंगे और देखे होंगे इसी प्रकर के बल्ब थोड़ी ज्यादा कीमत की होती है और ये सब आपको ज्यादा रोशनी देती है पुराने जवने के बल्ब से और सामान बिजली लेती है जलने में ।
  3. CFL (Compact Fluorescent Light) Bulbs: अगर हम क्षयमाता की बात करे तो आज तक की सबसे बेहतरीन बिजली बल्ब CFL है इसमें काम बिजली लगती है जलने में और ज्यादा रोशनी देती है । ये काम गर्मी देती है और ये ज्यादा दिन तक चल पाती है बिना कोई ख़राब होते हुए ।

ये बी पढ़िए

🔸 घडी का अविष्कार किसने किया ?

🔸 ट्रैन का अविष्कार किसने किया ?

🔸 रेडियो का अविष्कार किसने किया ?

🔸 मोबाइल फ़ोन का अविष्कार किसने किया ?

आज अपने क्या सीखा

आज हमने एक बोहोत ही बढ़िया चीज के ऊपर के बात की इलेक्टॉनिक बल्ब यानि बिजली की बल्ब का अविष्कार किसने किया था और उसके प्रकारके ऊपर हम आज बात किये है और इसके इतिहास के ऊपर हमने बात की है । अगर आपको हमारा ये पोस्ट अच्छा लगा है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर कीजिये और आपको हमारा ये जानकारी कैसा लगा आप हमें कमेंट करके जरूर बताना ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *