API kya hai in Hindi जानिए API क्या है और इसका इस्तमाल के बारेमें 

API kya hai in Hindi जानिए API क्या है और इसका इस्तमाल के बारेमें 

API kya hai in Hindi जानिए API क्या है और इसका इस्तमाल के बारेमें 

स्वागत आप सभी को हमारे और एक नए ब्लॉग पोस्ट में । API kya hai in Hindi इसी सवाल ज्यादातर जो लोग नए नए ऑनलाइन में वेबसाइट बनाने का काम करते है और जो डेवलपर है उनके दिमाग में खास तौर पे ये सवाल आते है ।

मुख्यरूप से इसका इस्तमाल ऑनलाइन में दोनों चीजों को एक साथ जुड़ने केलिए या API को दूसरे जगह से डाटा लेने केलिए इस्तमाल किया जाता है यानि एक web application किसी दूसरे web application के साथ connect करने केलिए इसका इस्तमाल किया जाता है ।

जैसे की इसका एक उदाहण आपके सामने देना चाहुगा आप बोहोत सारे वेबसाइट देखे होंगे खास करके news websites में या बोहोत application में उनके अंदर आपको Weather report देखने केलिए मिलता है ।

यहाँ तो कोई बी web application चाहे वो software/application हो या कोई बी website हो वो अपने और से weather report नहीं दिखा सकते, हैं वो दिखा सकते है पर उसके लिए उन्हें बोहोत ज्यादा खर्चा करना पद सकता है ।

तो यहाँ weather जो सँभालते है उनके और से वो API key provide करते है जिसको आप अपने software/application या website में डालके आसानी से उन्हें weather report दिखा सकते है । यहाँ tak आपको थोड़ा बोहोत pata chal गया होफा API के बारेमें ।

api kya hai in hindi

अगर आप ऑनलाइन में काम नहीं करते है तो सायद ये चीज समझने में थोड़ा आपको दिक्कत आ सकती है ।आगे चलके हम इसके बारेमें और डिटेल्स में बात करेंगे API क्या है हिंदी में ।

API kya hai in Hindi 

API का फुल फॉर्म है Application Programming Interface . आपको इसके नाम से ही इसके काम के बारेमें थोड़ा बोहोत समझ आ गया होगा ।

मुख्यरूप से API एक कोड है जिसको अप्लीकेशन, software , websites ये sab कहिबार उनके अंदर कुछ एक्स्ट्रा चीजें यानि एक दूसरे में communicate करने केलिए API का इस्तमाल करते है ।

अगर आप अपने web browser में जाके जैसे ही कुछ सर्च करते है इंटरनेट कनेक्शन करके तब आपके ब्राउज़र से एक request जाता है सर्वर और सर्वर उसी डाटा को पढ़ के फिरसे वापस करता है उसी ब्राउज़र को फिर जाके आप उसे देख पाते है ।

ठीक उसी तरह API बी काम करता है API पहले डाटा लेके जाता है अपने server के पास फिर वो डाटा को लेके आपके सामने रखता है यानि API एक माध्यम है डाटा का लें दें करने का ।

आपको समझने में आसानी हो उसके लिए आपके सामने एक साधारण सा उदहारण देना चाहुगा मान लीये आपने कही खाना खाने केलिए गए और वहां पे जाके अपने वहां के खाने का चीज को देखा और आपको जो सही लगा उसी हिसाब से अपने वेटर को बुलाया और आर्डर दिया आपको जो चाहिए ।

फॉर वो वेटर जहाँ खाना बनाते है वहां जेक आपके दिए गए आर्डर के हिसाब से वो खाना लेके आपके सामने रख देता है, यहाँ वेटर जिस हिसाब से काम किया है ठीक उसी तरह एक API काम करता है ।

जैसे की मैंने आपको ऊपर ही बता दिया है कसिए weather API काम करता है ठीक उसी तरह बोहोत सारे API होते है जिनका इस्तमाल तरह तरह के application/software में और website में इस्तमाल होता है ।

API हमें सिर्फ डाटा के लें दें के अलावा बी बोहोत से जगह में इसका इस्तमाल किया जाता है जैसे की एप्लीकेशन को स्पीड बढ़ने केलिए और एप्लीकेशन को smoothly चलने केलिए ऐसे तरह तरह की API होती है ।

> Website कैसे बनाये जानिए हिंदी में ?

> SEO क्या है ? जानिए पूरी जानकारी 

API का इतिहास

API जितना मोर्डर्न तरीका है और जितना बेहतर तरीके से काम कर रहा है ये उतना ही पुराण है । British कंप्यूटर बैज्ञानिक “Wilkes” और “Wheeler” 1940 में एक सॉफ्टवेयर मॉडल में जब काम रहे थे तब पहली बार API को वो सामने लाये थे ।

“Joshua Bloch” नमक एक बैज्ञानिक, उनका मन्ना था की उन्होंने पहली बार इसका ईजाद किया था बोलके ।पहली बार 1968 में एक पेपर के जरिये इसका एप्लीकेशन का interaction को समझते हुआ API का इस्तमाल किया गया है ।

फिर धीरे धीरे इसको और डेवलप किया गया और 1990 के बाद technologist के मानना था  की API को वो कहीं बी digital फील्ड में इस्तमाल किया जा सकता है इसको programming करके ।

API के बारेमें और बी बोहोत कुछ है पर जितना जरुरी है आसान हो आपको समझने में मैंने उन्ही सारे को  बताये है ।

 API के प्रकार

API बोहोत प्रकार की होती है और हर API की अलग अलग प्रकार की काम बी होती है । हर API को बनाया जाता है उसके जरुरत के हिसाब से । जिसको जैसी API जरुरत होती है वो ऐसे ही API बनाते है ।

बोहोत साड़ी बड़ी बड़ी कंपनी अपने जरुरत के हिसाब से वो अपना API develop करते है ।

चलिए जानते है ऐसे कुछ API के बारेमें

  1. Procedural API : जब कोई developer कोई बी application बनाने जाता है तब उसके उसको इसी प्रकार की API की जरुरति होती है । इसमें  वो तो apps तो बना लेते है पर उसमे जो डाटा आता है जिस हिसाब से interface में दिखाई देता है ये सब काम procedural API संभालता है ।
  2. Object Oriented API : इसी तरह की API जो एप्लीकेशन के अंदर objects होते है उनके डाटा सर्वर तक पचने में काम में लिया जाता है । ये बोहोत ज्यादा लोड ले सकता है और बोहोत स्पीड देता है एप्लीकेशन को । इसी तरह की API को मुश्किल कामो में इस्तमाल किया जाता है ।
  3. Service-Oriented API : इसी तरह की API ज्यादातर सेवीके प्रदान करने वाली software और web application में इस्तमाल किया जाता है । अगर आप अपने कही जगह में इसका ितमल करना चाहते है तो आपको बोहोत सारे जगह में वो अपने और से देते और कही बार आपको खुदको बनाना पड़ता है । इसका उदहारण weather API है, जिसे कोई बी इस्तमाल कर सकता है फ्री में ।
  4. Resource-Oriented API : आपको इसके नाम से पता चल रहा होगा ये किसी तरीका के API है । इसका मुख्यरूप से काम ये है की ये data को सेवेर से लेने का और सर्वर से डाटा को वापस web application में लाने का काम करता है । इसको बड़ी बड़ी कंपनी अपने एप्लीकेशन में इस्तमाल करते है ताकि स्पीड के साथ साथ secure रहे उनका डाटा ।

कुछ API के उदहारण

हम यह आज ऐसे कुछ API के बारेमें बात करेंगे जिनके बारेमें आप कहीं ना कही सुने होंगे और ये सब बोहोत फेमस बी है, चलिए जानते है कुछ इसी तरीके के API के बारेमें

API का ब्यबहार

निचे आपको कुछ API के ब्यबहार दिए गए है जो आज काल ज्यादा इस्तमाल हो रहे है

  1. सबसे पहले API का इस्तमाल web ऍप्लिकेशन्स की टाइम शेविंग केलिए किया जाता है  । जैसे की अगर आपको हर दिन का weather दिखाना है तो उसे बेथ के आपको हर दिन अपडेट करना होगा पर API के मदद से बिना म्हणत के आपके सामने दिखाई देता है weather report .
  2. Automation : इसमें आपको एक बार हर चीज सेट करने के बाद आपको बार बार करना नहीं पड़ता है, अगर अपने एक बार API के जरिये connect कर लिए फिर वो अपने आप है काम करता रहेगा ।
  3. API के मदद से interface पे ज्यादा लोड नहीं पड़ता है और आसानी से लोड हो जाता है जिसके कारन user friendly बनता है application को ।

API का बर्तमान और भबिस्य

अगर बात करू API की तो आज के समय में लोग इसे इस्तमाल कर रहे है पर बोहोत काम हो रहा है । पर समय बदल रहा है और दुनिया के हिसाब हर चीज बदल रही है ।

API जिस हिसाब से और जैसे इसके काम है आज वो सब आने वाले दिनों में बोहोत बेहतर होने वाला है आज के समय में लोग जानने लगे है इसके बारेमें और इसका इस्तमाल बी ज्यादा से ज्यादा होने लगा है ।

API का उपयोगिता आने वाले दिनों में बढ़ने वाला है क्यों की आज कल इंटरनेट इस्तमाल करने वाले लोग बढ़ रहे है और नए नए technology बी आ रहे है और सारे चीज को API की बोहोत जरुरति होने वाली है । अगर कोई API devlopment में काम कर रहा है अभी से तो आगे चलके उनके पास एक संधार मौका मिलेगा उनको साबित करने का ।

आखरी सब्द

असा करते है हमने आपको API kya hai in Hindi के बारेमें कुछ समझा पाया है । अगर आपको अच्छा लगा है तो या आपको कुछ पूछना है तो आप हमें निचे comment पूछ सकते है ।

हमारा मुख्यरूप से मकसद है की हम हमारे दोस्तों को यानि आप लोगों को जितना हो सके उतना हिंदी में जानकारी पहुंचने की ।क्यों की बोहोत सारे ऐसे मेरे भाई और बेहेन है जिनको इंग्लिश थोड़ा समझने में दिक्कत अति है ।

असा करते है हमारा ये पोस्ट आपको अच्छा लगा होगा, धन्यबाद ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *